राजनीति क्षितिज का सितारा करुणानिधि की तबीयत बिगड़ी

चुनाव में हमेशा जीत कर बनाया रिकार्ड

तमिलनाडु के राजनीति क्षितिज का एक सितारा करुणानिधि बीमार हैं। उनकी हालत नाजुक बनी हुई है और चिकत्सको ने उनके जीवन के लिए अगला 24 घंटा बेहद ही अहम बताया है। डीएमके प्रमुख करुणानिधि तमिलनाडु में पांच बार मुख्यमंत्री रह चुकें है और राष्ट्रीय राजनीतिक पटल पर हमेशा कद्दावर मौजूदगी का अहसास दिलाने वाला एक दमदार राजनेता के रूप में जाने जातें हैं।

समर्थको में बढ़ी बेचैनी
करुणानिधि के बीमार होने की खबर जैसे ही बाहर आई, उनके समर्थक बेचैन हो गए। समर्थकों का अस्पताल के बाहर जमावड़ा लगना भी शुरू हो चुका है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी करुणानिधि का हालचाल जानने चेन्नई के कावेरी अस्पताल पहुंचे और उनके पुत्र एमके स्टालिन तथा उनके अन्य परिजनों से मुलाकात करके ढ़ाढ़स बंधाया। इससे पहले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एस थिरुनावुककरसर भी उनसे मिलने पहुंचे थे और दक्षिण के कई शीर्ष नेता पहले ही अस्पताल पहुंच कर उनके स्वास्थ्य लाभ लेने की कामना कर चुकें हैं। बतातें चलें कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा भी अस्पताल पहुंच कर करुणानिधि से मिल चुकें हैं।
अस्पताल ने जारी की बुलेटिन
चेन्नई के कावेरी अस्पताल की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा गया है कि करुणानिधि की स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है। बतातें चलें कि करुणानिधि गत 29 जुलाई से ही अस्पताल के इंटेंसिव केयर यूनिट यानी आईसीयू में भर्ती हैं। चिकित्सको का कहना है कि करुणानिधि के शरीर में उनके उम्र के हिसाब से सभी ऑरगन्स को सही तरीके से काम नहीं कर रहा है। बहरहाल, उनको एक्टिव मेडिकल सपोर्ट दिया जा रहा है। चिकित्सको का कहना है कि इलाज के दौरान उनका रिस्पान्स ही उनके आगे के उपचार का रास्ता तय करेगा।
यादगार राजनीतिक सफर
कहतें कि 94 वर्षीय करुणानिधि ने इसी साल 3 जून को अपना 94वां जन्मदिन मनाया। आपको याद ही होगा कि आज से 50 साल पहले 26 जुलाई को ही उन्होंने डीएमके की कमान अपने हाथ में ली थी। राजनीति में इतने लोकप्रिय हुए कि कभी भी चुनाव नहीं हारा। करुणानिधि के नाम अपनी सीट कभी नही हारने का रिकॉर्ड भी है। वह पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और 12 बार विधानसभा सदस्य रहे और संसदीय राजनीति में हमेशा चुनाव जीतने का रिकार्ड भी उन्हीं के नाम पर रहा।

KKN Live के पेज को फॉलो कर लें और लाईक व शेयर भी जरुर करें।

%d bloggers like this: