मीनापुर के कैंसर पीड़ितों से मिले विधायक, मदद का दिया भरोसा

ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने की करेंगे अनुशंसा

कौशलेन्द्र झा
मुजफ्फरपुर। कैंसर का कहर झेल रहे मीनापुर के गोरीगामा व टेंगराहां गांव के लोगों से शनिवार को विधायक मुन्ना यादव ने मुलाकात की। साथ ही हरसंभव मदद का भरोसा दिया। विधायक ने बताया कि वे शीघ्र ही राज्य के स्वास्थ्य मंत्री से मिलकर उन्हें स्थिति से अवगत कराएंगे। अगर जरूरत पड़ी तो इस मुद्दे को विधानसभा के अगले सत्र में उठाएंगे। इस दौरान उन्होंने फोन से सिविल सर्जन से बातकर विशेषज्ञों की टीम को गांव भेजकर जांच कराने की मांग की।
इससे पहले विधायक ने गांव के सभी कैंसर पीड़ितों से मिलकर उनकी समस्याएं सुनीं। बताया कि जांच के दौरान यदि पानी में गड़बड़ी पाई गई तो वह मुख्यमंत्री विकास कोष की राशि से गांव वालों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने की अनुशंसा करेंगे। बताते चलें कि पिछले दिनों पीएचईडी ने गांव के 31 जलस्रोत से जल का नमूना संग्रह कर उसे जांच के लिए लैब भेजा है। अभी रिपोर्ट का आना बाकी है। इसके अतरिक्त विधायक ने गांववालों की मांग पर मध्य विद्यालय गोरीगामा में चहारदीवारी निर्माण का आश्वासन दिया।
मौके पर राजद नेता उमाशंकर सहनी, पूर्व प्रमुख राजगीर राम, किसान नेता सच्चिदानंद कुशवाहा, श्याम कुमार, शिक्षक विवेक कुमार, अंशुमान, धीरज कुमार, कंचन कुमार, पप्पू कुमार, संजीव कुमार, नीरज कुमार आदि थे।
एक दशक में 31 लोगों की हुई है मौत, पांच पीड़ित
बताते चलें कि पिछले एक दशक में गोरीगामा व टेंगराहां गांव के 31 लोगों की मौत कैंसर के कारण हुई है, जबकि पांच ग्रामीण अब भी इस बीमारी से पीड़ित हैं। ‘हिन्दुस्तान’ ने इसको प्रमुखता से उठाया। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग हरकत में आया। वहीं, पीएचईडी की टीम भी गांव पहुंच जल का नमूना संग्रह किया। अब स्थानीय विधायक के गांव पहुंचने से लोगो में समस्या के समाधान होने की उम्मीद जगी है।