कुपोषण की चपेट में छोटे कद की शिकार हो रही है महिलाएं

महिलाओं पर किये गये एक सर्वे की चौकाने वाली रिपोर्ट सामाने आई है। दरअसल, बिहार समेत झारखंड और यूपी की अधिकांश महिलाएं कुपोषण की शिकार पाई गई है।

नतीजा, इन तीन राज्यों में बड़ी संख्या में महिलाओं का समुचित विकास नही हो रहा है और वह दिन प्रतिदिन छोटी कद और बीमारू काया की शिकार हो कर रह जाती है। सर्वे में महिलाए बेहद कमजोर पाई गई है। रिर्पोट के मुताबिक बिहार में ऐसी महिलाओं की संख्या 30 फीसदी, झारखंड में 31.5 फीसदी और यूपी में 25.3 फीसदी पाया गया है। इसके उलट देश में उत्तरपूर्व के राज्यों में महिलाओं की सेहत बेहतर पाया गया है।
नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे की रिपोर्ट-2016 के मुताबिक, बिहार, दादरा नागर हवेली, गुजरात, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान और असम में एक चौथाई से अधिक महिलाओं का वजन औसत से भी कम पाया गया है। यूपी में लगभग ढाई करोड़ महिलाएं कुपोषण का शिकार हैं। झारखंड के बाद बिहार की हालत देश में सबसे खराब है। यहां 30.4 फीसदी महिलाओं का वजन और लंबाई मानक के अनुरूप नही पाया गया है। इसी रिपोर्ट में अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मिजोरम, सिक्किम, मेघालय, नई दिल्ली, चंडीगढ़, जम्मू-कश्मीर और केरल की महिलाओं का स्वास्थ्य बेहतर बताया गया है।

%d bloggers like this: