नए भारत की नई संकल्‍प के साथ विश्व गुरू बनने की यात्रा आरंभ

एनडीए ने नरेन्द्र मोदी को अपना नया नेता चुना

भारत में लोकसभा चुनाव के सभी परिणाम आने के बाद शनिवार की शाम संसदीय दल ने नरेन्द्र दामोदर दास मोदी को अपना नया नेता चुन लिया है। इसी के साथ नए भारत की नई संकल्‍प के साथ भारत के विश्व गुरू बनने की यात्रा आरंभ हो गई। इससे पहले बीजेपी संसदीय दल ने श्री मोदी को सर्व सम्मति से अपना नेता चुना और इसके तत्काल बाद एनडीए की बैठक में श्री मोदी को नेता चुन लिया गया। इससे पहले आज सुबह राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द से मिल कर पीएम मोदी ने अपना इस्तीफा राष्ट्रपति को सौप दिया है। इसी के साथ राष्ट्रपति ने 16वीं लोकसभा को भंग करते हुए 17वीं लोकसभा के गठन होने तक श्री मोदी को कार्यवाहक प्रधानमंत्री मनोनित कर दिया है।

संसद के सेंट्रल हॉल में हुआ समारोह

शाम संसद भवन के सेंट्रल हॉल में समारोह पूर्वक हुई बैठक के बाद श्री मोदी ने अपने भाषण में नए भारत की नई संकल्प को दोहराया। इस बैठक में उद्धव ठाकरे, रामविलास पासवान समेत एनडीए के सभी नेता और सांसद मौजूद थे। सबसे पहले बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने बीजेपी संसदीय दल के नेता के लिए नरेंद्र मोदी के नाम का प्रस्‍ताव रखा जिसका समर्थन राजनाथ सिंह और नितिन गडकरी समेत सभी बीजेपी सांसदों ने समर्थन किया। इसके बाद एनडीए में शामिल दलों ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद के लिए अपना समर्थन दे दिया है। समर्थन करने वालों में अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल, जेडीयू के नेता नीतीश कुमार, एलजेपी के नेता रामविलास पासवान, एआईएडीएमके सहित एनडीए के सभी घटक दल के नेता शामिल थे। मंत्रिमंडल के गठन और पोर्टफोलियो को लेकर अमित शाह शनिवार और रविवार को एनडीए सहयोगियों के साथ विचार विमर्श करेंगे।