विधानसभा का चुनाव परिणाम, कॉग्रेस के लिए बना संजीवनी

भारत के पांच राज्यो का चुनाव परिणाम भविष्य का बड़ा संकेत माना जा रहा है। यह परिणाम कॉग्रेस के लिए संजीवनी साबित होने वाला है। बहरहाल, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की बादशाहत कायम हो चुकी है और मध्यप्रदेश में मुकाबला दिलचस्प होने का बाद भी कॉग्रेस को जबरदस्त लाभ से किसी को इनकार नहीं है। तेलंगाना में टीआरएस ने सभी का सूपड़ा साफ कर दिया। इधर, मिजोरम में एमएनएफ ने बढ़त बना ली है।

 

स्पष्ट बहुमत की ओर टीआरएस

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों और रुझानों के अनुसार कांग्रेस ने बीजेपी से राजस्थान और छत्तीसगढ़ छीन लिया है। वहीं, मध्यप्रदेश में पेंच फंसा दिख रहा है। दूसरी तरफ तेलंगाना में पूर्व मुख्यमंत्री और के. चंद्रशेखर राव की पार्टी टीआरएस को प्रयाप्त बहुमत मिल गया है। टीआरएस ने 80 से ज्यादा सीटों पर बढ़त बनाई हुई है। मिजोरम में शुरुआत से ही एमएनएफ ने बढ़त बनाई हुई है। कुल मिलाकर अभी तक के रुझानों में बीजेपी को बड़ा झटका लगता दिख रहा है।

बड़े बदलाव का संकेत

इस बीच रुझानों के मुताबिक मध्य प्रदेश में बीजेपी और कांग्रेस में कांटे की टक्कर दिख रही है। लेकिन छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बड़ी सफलता मिली है। देखने वाली बात यह है कि लोकसभा चुनाव से कुछ महीने पहले आए इन चुनाव परिणामों का देश की राजनीति पर क्या असर पड़ता है? क्या पीएम मोदी अर्थव्यवस्था को लेकर कोई बड़ा फैसला करेंगे और इसके साथ ही अब वह क्या रणनीति अपनाएंगे? राजनीति के जानकार अब इन सभी मुद्दो को लेकर मंथन करने लगे हैं।