बिहार के जमुई में नक्सलियों ने खेली खून की होली

जमुई। बिहार के जमुई में नक्सलियों ने दो संगे भाइयो की बेरहमी के साथ हत्या करके होली के रंग को न सिर्फ बदरंग किया। बल्कि, उसमें बड़ी ही बेरहमी से इंसानी खून का रंग भी मिला दिया है।

घटना, बिहार के जमुई जिला अन्तर्गत बरहट प्रखंड के पचेश्वरी गांव की है। जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की देर रात करीब 2 बजे 100 की संख्या में आए नक्सलियों ने 2 ग्रामीणों की गोली मारकर बेरहमी के साथ उसकी हत्या कर दी। बताया जाता है कि रात करीब दो बजे जब सभी ग्रामीण पचेश्वरी स्कूल में सोए हुए थे, तभी लगभग 100 की संख्या में आए नक्सलियों ने एक ही परिवार के 3 लोगों को टारगेट करते हुए उन्हें स्कूल से बाहर बुलाया। जब वह नहीं निकले तो नक्सली दरवाजे को तोड़ते हुए अंदर घुस गए, जहां उन्होंने एक युवक मदन कौड़ा की गोली मारकर हत्या कर दी।
इसके बाद नक्सलियों ने मदन कौड़ा के दूसरे भाई प्रमोद कौड़ा के कमरे का दरवाजा यह कहकर खुलवाया कि कुछ नहीं करेंगे और दरवाजा खोलते ही उन्होंने प्रमोद की भी गोली मारकर हत्या कर दी। गनीमत रही कि इस दौरान मदन कौड़ा का तीसरा भाई रंजीत कौड़ा शौच के लिए बाहर गया हुआ था। जैसे ही उसने गांव में सैकड़ों की संख्या में नक्सलियों को देखा वह वहां से भाग गया।
स्थानीय ग्रामीणों के अनुसार, नक्सली यहां की बच्चियों को भी अपने साथ ले जाना चाह रहे थे। नक्सलियों का कहना था कि वापस अपने गांव लौट जाएं। घटना की सूचना के बाद एसपी जमुई डीएसपी जमुई ने गांव में पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी है।