एक बार फिर तार तार हुई गुरू शिष्य परंपरा

छात्रा का कोचिंग संचालक के साथ ग्रामीणो ने कराई विवाह

मीनापुर। टिउसन पढ़ाने की आर में अपने ही छात्रा को प्रेम जाल में फांसने का एक मामला प्रकाश में आया है। मामला उजागर होने के बाद ग्रामीणो ने लड़की के परिवार वालो की सहमति से रविवार को नेउरा के शिव मंदिर में कथित गुरुजी के साथ छात्रा का विवाह करा दिया। इस विवाह समारोह का गवाह बने छात्रा के परिजन और ग्रामीण।

घटना मीनापुर के अलीनेउरा गांव की है। सिवाईपट्टी थाने के टेंगरारी गांव के रहने वाले सुनील कुमार पिछले दो वर्षो से नेउरा के निर्वाचित पंच अवध प्रसाद के घर में रह कर विद्या मंदिर कोचिंग सेन्टर चलाता था। इस बीच कोचिंग सेन्टर में पढ़ने वाली एक छात्रा से उसके मधुर संबंध बन गए। इस बीच परिवार वालो ने दो महीना पहले उक्त छात्रा की बनघारा के युवक से विवाह तय कर दी। किंतु, छात्रा ने विवाह करने से इनकार कर दिया।
परिवार के लोगो को शक हुआ और खोजबीन शुरू करने के बाद जब इस बात की भनक परिवार वालो को लगी तो उन्होंने सुनील पर छात्रा के साथ विवाह कर लेने का दवाब बनाने लगे। इस बीच सुनील ने बड़ी ही चालकी से छात्रा के पिता से 70 हजार रुपये का कर्ज भी ले लिया।
रविवार को मामले का खुलाशा होते ही ग्रामीण एकजुट हो गए और परिवार वालो की मदद से छात्रा के साथ गांव के शिव मंदिर में सुनील का विवाह करा दिया गया। स्थानीय मुखिया रामप्रीत राम ने विवाह होने की पुष्टि की है। घटना की सूचना मिलते ही मीनापुर पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गयी। किंतु, ग्रामीणो ने दोनो का विवाह कराने का हवाला देकर पुलिस को लौटा दिया है। फिलहाल, यह प्रेम विवाह इलाके में चर्चा का विषय बना चुका है।