मेघालय में संगमा ने ली मुख्यमंत्री की शपथ

मेघालय। मेघालय में बड़ी पार्टी होने के बावजूद कॉग्रेस को सत्ता नसीब नही हुई। वहां बीजेपी की मदद से नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के अध्यक्ष कोनराड संगमा ने आज मुख्यमंत्री की शपथ ले ली हैं। कोनराड संगमा मेघालय के पूर्व मुख्‍यमंत्री और लोकसभा के पूर्व स्‍पीकर स्‍व. पीए संगमा के बेटे हैं। कोनराड संगमा जब पार्टी के काम से कुछ समय निकाल पाते हैं, तब उन्हें पढ़ना, संगीत सुनना और परिवार के साथ घूमना पसंद है।

बतातें चलें कि संगमा की स्कूली शिक्षा नई दिल्ली के सेंट कोलंबस स्कूल में हुई है। इसके बाद उन्होंने बीबीए वॉर्टन स्कूल, यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया से पूरा किया और एमबीए टनाका बिजनेस स्कूल, यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन से किया।
संगमा ने राजनीति में 2008 में कदम रखा। संगमा 2008 के विधानसभा चुनाव में पहली बार विधायक चुने गए। संगमा ने यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (यूडीपी) की सरकार में 2008 में सबसे युवा वित्त मंत्री के तौर पर कई अहम मंत्रालयों को संभाल चुकें है। यही नहीं वित्त मंत्री चुने जाने के 10 दिन के भीतर ही उन्होंने मेघालय सरकार का बजट भी पेश किया था। इसके अलावा वे ऊर्जा और पर्यटन मंत्रालय का कार्यभार भी संभाल चुके हैं। साल 2009 से 2013 तक संगमा मेघालय विधानसभा में विपक्ष के नेता के तौर पर रहे। हालांकि 2013 में उन्हें चुनाव में हार का सामना भी करना पड़ा था।
स्मरण रहें कि कोनराड संगमा को राजनीति विरासत में मिली है। पिता के बाद कोनराड के साथ-साथ उनके भाई और बहन भी राजनीति में हाथ आजमां चुके हैं और सफल भी रहे हैं। उनकी बहन अगाथा संगमा 15वीं लोकसभा में सांसद चुनी गईं और केंद्र में मंत्री भी बनीं, दूसरी ओर उनके भाई जेम्स संगमा भी विधानसभा के सदस्य हैं।