स्कूली बच्चों को रौदने वाले बीजेपी नेता पर केस दर्ज

मुजफ्फरपुर। मीनापुर के धरमपुर में शनिवार को नौ स्कूली बच्चो को रौदने वाले बीजेपी नेता मनोज बैठा पर मीनापुर थाना में एफआईआर दर्ज हो गया है। पुलिस अब मनोज की गिरफ्तारी के लिए छापामारी कर रही है। बताया जा रहा है कि जिस बोलेरो ने स्कूली छात्रो को बेरहमी से कुचला था, उस बोलेरो को बीजेपी नेता मनोज बैठा स्वयं चला रहे थे। सूत्रो से मिल रही जानकारी के मुताबिक दुर्घटना में मनोज भी बुरी तरीके से जख्मी हुआ है और वह सीतामढ़ी के किसी निजी क्लीनिक में छिप कर अपना इलाज करा रहा है। फिलहाल, पुलिस की नजर में मनोज फरार हैं और पुलिस उसकी तलाश में जुटी है।

स्मरण रहें कि शनिवार को मुजफ्फरपुर के मीनापुर थाना क्षेत्र में धर्मपुर उत्क्रमित मध्य विद्यालय के सामने छुट्टी के बाद घर जा रहे छात्र एक तेज रफ्तार बोलेरो की चपेट में आ गए थे। इनमें 9 छात्रों की मौत हो गई थी जबकि दस अन्य घायल हुए है।
पुलिस अधिकारी ने बताया कि ग्रामीण मोहम्मद अंसारी के बयान पर मीनापुर थाने में मनोज बैठा के खिलाफ गैरइरादतन हत्या के आरोप में एक प्राथमिकी दर्ज की गई है। मनोज महादलित प्रकोष्ठ के सीतामढ़ी जिलास्तरीय नेता हैं। हालांकि, उनके बोलेरो पर प्रदेश मंत्री का बोर्ड लगा हुआ है। इस हादसे में बीजेपी नेता का नाम आने के बाद बिहार की राजनीति गरमा गई है। बिहार में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि नौ मासूम बच्चों को कुचलने वाले हत्यारे बीजेपी नेता को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के सीधे संरक्षण के चलते अभी तक उसकी गिरफ्तार नहीं हुई है।
इधर, बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि यह नीतीश कुमार की सरकार है, इसमें कोई भी अपराधी बच नहीं पाएगा। तेजस्वी के आरोपों को खारिज करते हुए सुशील मोदी ने कहा कि बीजेपी या आरजेडी से संबंध होने के चलते किसी आरोपी को बचाए जाने का कोई सवाल ही नहीं उठता है।

%d bloggers like this: