ड्राइविंग के समय मोबाइल पर बातें करना खतरनाक

पिछले एक साल में हुई दो हजार से अधिक मौतें

नई दिल्ली। गाड़ी चलाते समय मोबाइल का इस्तेमाल करना लोगों की जिंदगी पर भारी पड़ने लगा है। रिपोर्ट पर गौर करें तो बीते एक वर्ष में ड्राइविंग करते समय मोबाइल से बात करते हुए दुर्घटनाग्रस्त हुए 2,138 लोगों की मौत का रिपोर्ट चौकाने वाला है।
केन्द्रीय परिवहन मंत्रालय से मिली डाटा के अनुसार, गाड़ी चलाते समय सड़क पर आने वाले गड्ढे, खराब स्पीड ब्रेकर आदि की वजह से रोजाना 26 मौतें होती हैं। जिन प्रदेशों में सबसे ज्यादा हादसे हुए हैं, उनमें महाराष्ट्र, यूपी, हरियाणा, दिल्ली आदि शामिल हैं। यह पहली बार है, जब परिवहन मंत्रालय ने इस तरह का डाटा सार्वजनिक किया है।
एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार, हर घंटे तकरीबन 17 लोग सड़क हादसे में मारे जाते हैं। लोग गाड़ी चलाते हुए कई बार मोबाइल से सेल्फी भी क्लिक करने की कोशिश करते हैं। ऐसे समय में वे अपनी जान तो जोखिम में डालते ही हैं, साथ ही साथ सामने वाले की भी जान जोखिम में डाल देते हैं।
विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, गाड़ी चलाने के दौरान मोबाइल पर बातचीत करने से चार गुणा अधिक एक्सीडेंट का खतरा बना रहता है। सड़क पर चलने या गाड़ी चलाते वक्त मोबाइल पर मैसेज और सेल्फी लेने से हादसे का खतरा और बढ़ जाता है।