चुनरी में लपेट कर मां ने दी अंतिम विदाई

इंदौर बस हादसा का दर्दनाक दृश्य

पूजा श्रीवास्तव
मध्य प्रदेश। जब एक बिलखती हुई मां ने अपनी बच्ची को चुनरी में ओढ़ाकर अंतिम विदाई दी, तो पूरा शहर गमगीन हो गया। घटना  मध्य प्रदेश के इंदौर शहर की है। भीषण सड़क हादसे ने यहां के लोगो को अंदर तक झकझोर दिया है।
बिलखते माता-पिता को नम आंखों के साथ हजारों की संख्या में पहुंचे लोग सांत्वना देते रहे। रीजनल पार्क स्थित मुक्तिधाम पर नम आंखों से लोगों ने मासूमों को विदाई दी।

गौरतलब है कि बॉम्बे हॉस्पिटल चौराहे पर दिल्ली पब्लिक स्कूल की बस स्टेयरिंग फेल हो जाने से डिवाइडर तोड़ कर दूसरी रोड पर जा पहुंची। इस दौरान सामने से आ रहे ट्रक से जोरदार टक्कर हो गई। घटना के दौरान ड्राइवर और चार मासूमों की मौत हो गई। जबकि चार बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए, जो अभी वेंटिलेटर पर हैं।
हादसे का दर्दनाक पहलू
लुधियानी के दंपति के पास शादी के 20 साल तक कोई संतान नहीं थी। हजारो मन्नत और दुआएं लेकर उन्होंने टेस्ट ट्यूब बेबी के रूप में श्रुति को जन्म दिया था। इसके बाद परिवार में आपार खुशियां और श्रुति को लेकर सबके आंखों में सपने थे। लेकिन शायद खुदा को ये मंजूर न था। बिलखती मां चींखती और कहती रही कि मेरी फूल जैसी कोमल बच्ची का पीस्टमार्टम मत करो। सुबह मां ने अपने कलेजे के टुकड़े को चुनरी ओढ़ाकर जब अंतिम विदाई की, तो वहा मौजूद सभी की आंखें नम हो गई।

%d bloggers like this: