हवस की शिकार बनी एक नबालिग, हालत गंभीर

बेतिया। दस वर्ष की कम उम्र में ही एक छात्रा हवस की शिकार हो गई। जानकारी के मुताबिक 10 वर्षीय बच्ची के साथ मैट्रिक के एक छात्र ने दुष्कर्म किया है। इतना ही नही बल्कि, आरोपित के दबंग परिजनो ने पीड़ित बच्ची को गंभीर अवस्था में अपने कब्जे में लेकर नगर के एक नर्सिंग होम में दो दिनों से इलाज भी करा रहे थे। घटना बेतिया के नवलपुर थाना के एक गांव का है।

एसडीपीओ संजय कुमार झा ने बताया कि आरोपित युवक फरार है। लड़के के पिता महेन्द्र चौधरी को साक्ष्य छुपाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले में बच्ची की मां ने एफआईआर कराई है। इसमें लड़के की मां और एक क्लिीनिक के संचालक व चिकित्सक को नामजद किया गया है।
बच्ची की मां ने पुलिस को बताया कि घटना के वक्त बच्ची अपनी दादी के साथ गांव में थी। उसके पिता चार माह पूर्व मजदूरी करने दूसरे राज्य में गए हुए थे। वह अपने पिता के श्राद्धकर्म में शामिल होने दस साल की बेटी को बूढ़ी सास के पास रख मायके चली गयी। देर शाम में बच्ची घर में सोयी थी तभी आरोपित ने घर में घुस कर उसके साथ दुष्कर्म किया है। उस वक्त बच्ची की दादी दरवाजे पर आग ताप रही थी। लड़की के चिल्लाने पर दादी व पड़ोस के लोग पहुंचे तो आरोपित फरार हो गया।

%d bloggers like this: