एक लुटेरी दुल्हन जिसने अपने ग्यारह पति को लूटा

भारत के एक राज्य उत्तराखण्ड के रुड़की से सटे धनौरी से एक चौकाने वाली खबर आई है। पुलिस ने एक ऐसी महिला को गिरफ्तार किया है, जिसे इलाके के लोग लुटेरी दुल्हन ने नाम से जानने लगें हैं। दरअसल, वह अपनी खूबसूरती की जाल में फांस कर अमीर लोगो से विवाह रचाती थी और अपने पति का सारा सामान लूटकर भाग जाती थी। ताज्जुब की बात ये है कि वह महिला अब तक 11 लोगों से शादी करके उन्हें लाखों रुपये का चूना लगा चुकी है। इस सातिर महिला के साथ उसके गैंग में चार और लोग शामिल थे। बहरहाल, पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है।

ऐसे हुआ मामले का खुलाशा
सिविल लाइंस कोतवाली अन्तर्गत धनौरी के अशोक कुमार ने पुलिस को आवेदन देकर बताया कि मुकेश नाम के एक युवक ने हरिद्वार के ज्वालापुर के कड़च्छ निवासी पूजा उर्फ रीता नाम की युवती से उनकी शादी कराई। युवती को गरीब परिवार का बताकर 50 हजार रुपये शादी के लिए पहले ही उधार ले लिया। इसके बाद इसी वर्ष 2 अप्रैल को रोशनाबाद कोर्ट में दोनो की शादी कराई गई। इस मौके पर खुद को पूजा का रिश्तेदार बताने वाले कई अन्य लोग भी शामिल हुये। किंतु, शादी की रात ही पूजा अपने पति के घर का सारा सामान समेट कर फरार हो गई। सुबह होने पर जब मुकेश की तलाश की गई, तो वह पहले ही फरार हो चुका था।
पुलिस के हथ्थे चढ़ा शातिर
पुलिस ने अपने मुखबिर की सूचना पर हरिद्वार के टिबड़ी इलाके से आरोपी मुकेश उर्फ यादराम सिंह को दबोच लिया। पुलिस के पूछताछ में मुकेश ने जो खुलाशा किया, वह बेहद ही चौकाने वाला था। दरअसल, उत्तराखंड के अतिरिक्त यूपी, हरियाणा और राजस्थान से उसका गैंग अब तक 11 लोगों को शादी के बाद लूट चुका था। पुलिस ने मुकेश के बयान पर अफजलगढ़ थाना के झाड़पुर से किथत लुटेरी दुल्हन रीता उर्फ पूजा को भी गिरफ्तार कर लिया है। इसी के साथ पुलिस ने इस गिरोह के अन्य सदस्य अरुण, भोपाल, पवन आदि को भी गिरफ्तार कर लिया है। उनके पास से 35 हजार नगद, मंगलसूत्र और अन्य जेबर भी बरामद हुआ है।
ऐसे फांसता था लोगो को
दरअसल, सबसे पहले मुकेश ऐसे युवकों की तलाश करता था, जो शादी करने के इच्छुक होते और उनकी शादी नहीं हो पा रही होती थी। वह लड़की को गरीब बताकर शादी की बात कहता था और लड़की के परिवार वालों से बात कराता था। इसके बाद भोपाल नाम का व्यक्ति लड़की का पिता बन जाता था और अरुण खुद को लड़की का भाई बता देता था। बात तय होते ही कोर्ट में या किसी मंदिर में शादी के बाद पूजा उर्फ रीता को विदा किया जाता था। योजना के मुताबिक शादी की रात ही वह अपने कथित पति को दूध में नसिला पदार्थ मिला कर पिला देती थी और उसके सोते ही घर का पूरा जेवर और नकद आदि लेकर फरार हो जाती थी।

KKN Live के पेज को फॉलो कर लें और शेयर व लाइक भी जरुर करें।

%d bloggers like this: