मॉडल बनने की उम्मीद में लूटी पन्द्रह युवतियां

भारत की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में युवतियों को मॉडल बनाने का झांसा देकर लूटने वाले एक गिरोह का पुलिस ने खुलाशा किया। पुलिस ने गिरोह के मास्ट माइंड शुभम उर्फ विराज को गिरफ्तार करके उससे पूछताछ कर रही है।

शुभम ने पुलिस को बताया कि उसने अपनी पत्नी के साथ मिल कर अब तक 15 युवतियों से चार लाख रुपये की ठगी कर चुका है। बतातें चलें कि वसंतकुंज नार्थ थाने की पुलिस को इसी वर्ष जून में मॉडल बनाने का झांसा देकर ठगी करने की कई शिकायतें मिली थीं। इसकी जांच के लिए पुलिस ने एक टीम बनाई। टीम ने जांच के बाद विराज को रणहौला स्थित उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसे गुरुवार को अदालत में पेश किया जहां से उसे एक दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।
होटल में करता था फोटो शूट
पुलिस की जांच में पता चला कि आरोपी शुभम ने अपनी पत्नी के साथ मिल कर ड्रीम फार सक्सेस नाम से एक माडलिंग एजेंसी बनाया हुआ था। यह एजेंसी विज्ञापन एवं फोटो शूट के लिए मॉडल उपलब्ध कराने का दावा करती थी। आरोपी अपने शिकार को महिपालपुर के होटलों में फोटो शूट के लिए बुलाता था और झांसे में फंसी युवतियों से ठगी करके फरार हो जाता था।
विदेश में मौका का भरोसा
पुलिस पूछताछ में आरोपी ने स्वयं कबूल किया है कि वह माडलिंग की इच्छुक युवतियों को बताया था कि वह विदेशी संस्था के लिए फोटो शूट करता है और उन्हें मेहनताने में विदेशी करेंसी का भुगतान होगा। लिहाजा, युवतियों को अपने बैंक खाते में न्यूनतम बीस हजार रुपये जरूर रखने का हिदायत भी देता था। इस दौरान वह युवतियों के मोबाइल अपने पास रखकर उन्हें फोटो शूट के लिए तैयार होने के लिए कहता था। फिर वह यूपीआई से रुपये अपने खाते में ट्रांसफर करके फरार हो जाता था।

KKN Live के इस पेज को फॉलो कर लें और शेयर व लाइक जरुर करें।

%d bloggers like this: