जयलाल बाबू ने दलित पिछड़ो में जगाया शिक्षा का अलख

​तृतिय पुण्यतिथि पर श्रद्धाजंली अर्पित

बताये रास्ते पर चलने का लिया संकल्प

कॉलेज को जिला में बनायेंगे नम्बर वन

संतोष कुमार गुप्ता

मीनापुर । यदु भगत किसान महाविधालय मीनापुर के संस्थापक सचिव स्व.जयलाल प्रसाद की तृतीय पुण्यतिथि शनिवार को मनायी गयी। पुण्यतिथि के मौके पर इन्हे श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया। श्रद्धांजली सभा को सम्बोधित करते हुए शिक्षाविद् प्रो सत्येंद्र कुमार ने कहा कि जयलाल बाबू ने मीनापुर मे कॉलेज स्थापित कर दलित पिछड़ो व गरीब वर्ग के बच्चो को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ने का अमर कृतित्व किया है। उनकी कृति हमेशा लोगो के जेँहन मे रहेगी। जुब्बा सहनी की धरती पर उन्होनो उच्च शिक्षा का अलख जगाया । आज गरीब की बेटी को भी उच्च शिक्षा के लिए दूर नही जाना पड़ता है। प्रो सीताराम सिंह ने कहा कि  नक्सल प्रभावित इलाके मे उच्च शिक्षण संस्थान खोलने की कृति को मीनापुर वासी इन्हे भूला नही पायेंगे। जयलाल बाबू के कारण ही आज गरीबो के बेटा बेटी सरकारी नौकरी मे जा रहे है। अजय कुमार ने कहा कि जयलाल बाबू के सपना को हमलोग मंजिल तक पहुंचायेगे। प्रो पुष्पा सिंहा ने कहा कि मीनापुर के हजारो छात्र छात्रा विदेशो मे इस कॉलेज का नाम रौशन कर रहे है।  सभा की अध्यक्षता प्राचार्य उपेंद्र कुमार ने किया ।मौके पर प्रो दिलीप कुमार,नवल किशोर सिंह,दीवाकर कुमार, कामेश्वर तिवारी, प्रो अशोक कुमार, डॉ सुरेश प्रसाद, प्रो पुरूषोत्तम कुमार,प्रो चंदन कुमार,प्रधान लिपिक जितेंद्र कुमार, राजेंद्र प्रसाद मोहन,विनोद कुमार,मनोज कुमार छोटन,शशिकला,अकिंद्र प्रसाद, गणेश प्रसाद,महेश प्रसाद, किशन, छोटी, आदित्य,आनंद सलोनी व डब्बू आदि ने विचार व्यक्त किये। प्राचार्य उपेंद्र कुमार ने कहा कि जयलाल बाबू के विचारधारा पर चलकर ही हम इस कॉलेज को जिला मे नम्बर वन बनायेंगे।