पुलिस कस्टडी में ही एक दूसरे को पहना दी वरमाला

प्रेमी युगल का मंदिर में हुआ अंतरजातीय विवाह

पुलिस वाले बने बराती

दरभंग। दरभंगा के सदर थाना क्षेत्र के छपकी गांव में एक प्रेमी जोड़ा ने पुलिस की मौजूदगी में एक दूसरे को वरमाला पहना कर सात जन्मो का साथ निभाने का कसम क्या खाया, वहां मौजूद पुलिस अधिकारी विलेन बनने की जिद छोड़ कर बराती बन गये और थाना परिसर में मौजूद मंदिर में ही दोनो की विवाह रचा दी।
बतातें चलें कि इस प्रेमी जोड़ा को गांव के एकभिंडा के समीप सुनसान इलाके से पकड़ कर ग्रामीणो ने पुलिस के हवाले किया था। पंचायत के मुखिया, सरपंच व समाज के अधिकांश लोगों ने पुलिस के इस कदम का स्वागत किया है। दरसल प्रेमी रविकांत झा मधुबनी जिला के खजौली प्रखंड के मुरुकिया गांव का रहने वाला है और लक्ष्मीसागर रोड नंबर 7 में अपने माता-पिता के साथ किराए के मकान में रहकर पढाई कर रहा था। इसी क्रम में उसे लड़की के भाई राहुल पासवान से दोस्ती हो गई। रविकांत का राहुल के घर आना-जाना शुरू हो गया।
दोनों परिवार में नजदीकी इतनी बढ़ गई कि दोनो का खाना व रहना भी साथ साथ होने लगा। इस बीच रविकांत और आरती एक दूसरे से प्यार करने लगे और जाति बंधन तोड़ के एक दूसरे के साथ जीने-मरने की कसमें खाने लगे। बहरहाल, दोनों प्रेमी युगल ने विवाह करके जातिवादी सोच रखने वालों के मुंह पर जोरदार चमाटा जड़ दिया है।