बिहार NDA में सीट का हुआ ऐलान

बिहार एनडीए

बिहार में लोकसभा चुनाव को लेकर रविवार को राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन यानी एनडीए के घटक दलों में सीटों का मसला सुलझा लिया गया। बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में शामिल तीनों दलों ने आपसी सहमति से सीटों का बंटवारा कर लिया है। वहीं, दूसरी ओर महागठबंधन में शामिल दलों के बीच सीट बंटवारे को लेकर अभी भी बैठकों का दौर जारी है।


यहां से लड़ेगी भाजपा


बंटवारे के तहत भाजपा बिहार की जिन 17 सीटो पर चुनााव लड़ेगी उनमें, पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, मधुबनी, अररिया, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, महाराजगंज, सारण, उजियारपुर, बेगूसराय, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम और औरंगाबाद शामिल है।


जदयू को इन सीटो पर उमारेगी उम्मीदवार


बिहार में जदयू के खाते में भी 17 सीटे गई है। जिसमें वाल्मिकीनगर, सीतामढ़ी, झंझारपुर, सुपौल, किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, मधेपुरा, गोपालगंज, भागलपुर, सीवान, बांका, मुंगेर, नालंदा, काराकाट, जहानाबाद और गया की सीट से जदयू के उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे।


लोजपा को मिली सीट


एनडीए के घटक दल लोजपा बिहार की छह सीटो पर अपना उम्मीदवार उतारेगी। लाजपा के खाते में बिहार की हाजीपुर, जमुई, समस्तीपुर, खगड़िया, वैशाली और नवादा लोकसभा सीट गई है।


बंटवारे के बाद की हालात


नए फर्मुला के तहत भारतीय जनता पार्टी के हिस्से पटना की दोनों सीटें पटना साहिब और पाटलिपुत्र आई हैं। जबकि, मुंगेर सीट पर जदयू अपना उम्मीदवार उतारेगा। जदयू के बिहार प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने सीटों के निर्धारण की घोषणा करते हुए कहा कि बिहार की कुल 40 लोकसभा सीटों में से जदयू और भाजपा 17-17 तथा राजग में शामिल लोक जनशक्ति पार्टी छह सीटों पर चुनाव लड़ेगी। गिरिराज सिंह की मौजूदा लोकसभा सीट नवादा अब लोजपा के खाते में चली गई है। जबकि भागलपुर पर जदयू उम्मीदवार किस्मत आजमाएंगे।


बिहार में लोकसभा की 40 सीट है


बिहार की कुल 40 लोकसभा सीटों पर सात चरणों में मतदान संपन्न होना है। राज्य में लोकसभा चुनाव के मतदान का पहला चरण 11 अप्रैल को शुरू होगा। जबकि, सातवां एवं अंतिम चरण 19 मई को होने वाले मतदान के साथ संपन्न होगा। मतों की गणना 23 मई को की जाएगी। बिहार के कुल 7.06 करोड़ मतदाताओं में 3.73 करोड़ पुरुष मतदाता और 3.32 करोड़ महिला मतदाता हैं। जबकि 2406 तीसरे लिंग के मतदाता हैं। यह सभी मतदाता 72,723 मतदान केंद्रों पर अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। बिहार में 15.50 लाख मतदाता पहली बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।


किस चरण में कहा होगा मतदान


बिहार में पहले चरण में 11 अप्रैल को औरंगाबाद, गया, नवादा और जमुई में मतदान होगा, जबकि किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, भागलपुर और बांका में दूसरे चरण यानी 18 अप्रैल को मतदान होगा। इसी प्रकार झंझारपुर, सुपौल, अररिया, मधेपुरा और खगड़िया में 23 अप्रैल को तीसरे चरण में मतदान होगा, जबकि दरभंगा, उजियारपुर, समस्तीपुर, बेगूसराय और मुंगेर के निर्वाचन क्षेत्रों में 29 अप्रैल को चौथे चरण में मतदान संपन्न होगा। पांचवें चरण में सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, सारण और हाजीपुर में छह मई को मतदान संपन्न होगा। छठे चरण में वाल्मीकिनगर, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, वैशाली, गोपालगंज, सीवान और महाराजगंज के आठ निर्वाचन क्षेत्रों में 12 मई को मतदान होगा। जबकि, पटना साहिब के निर्वाचन क्षेत्र के अलावा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह क्षेत्र नालंदा, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम, जहानाबाद और काराकाट में 19 मई को सातवें और अंतिम चरण में मतदान होगा।


दो विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव


लोकसभा के आम चुनाव के साथ ही रोहतास जिला के डेहरी विधानसभा क्षेत्र और नवादा विधानसभा क्षेत्रों में भी उप-चुनाव होगा। नवादा विधानसभा सीट राजद विधायक राज बल्लभ यादव और डेहरी विधानसभा सीट इसी दल के विधायक इलियास हुसैन के दोषी ठहराए जाने के बाद खाली हो गई हैं।