मीनापुर में पंचो पर लगा तुगलकी फरमान जारी करने का आरोप

पूर्व महिला पंसस से चटवाया थूक, आरोपितो ने किया घटना से इनकार

मुजफ्फरपुर। मीनापुर प्रखंड की बड़ाभारती पंचायत में पंचायती के दौरान एक पूर्व महिला पंसस से थूक चटवाने का मामला सामने आया है। इस संबंध में पानापुर ओपी में एफआईआर के लिए आवेदन पहुंचते ही पूरा पुलिस महकमा हरकत में आ गया। पीड़िता ने दुकान के किरायेदार व उसके परिजनों को आरोपित किया है।
पीड़िता ने बताया कि विशुनपुर पांडेय चौक पर एक साल पहले आरोपित ने किराये पर एक कमरा लेकर उसमें दुकान खोल ली थी। कुछ दिनों बाद दुकान पर असामाजिक लोगों का जमावड़ा होने लगा और दुकान से शराब और गांजा बेचे जाने की बात भी सामने आई। इसके बाद हमने दुकान खाली करने को कहा। यही से विवाद शुरू हो गया और आरोपित अरुण हत्या की धमकी देने लगा। इतना ही नही बल्कि, आरोपित ने दुकान खाली करने से भी इंकार कर दिया। इसी मामले को लेकर विशुनपुर पांडेय मठ पर पंचायत बुलाई गई थी। पीड़िता का आरोप है कि पंचायत के दौरान ही आरोपितो की मिली भगत से पंचो ने उससे जबरन थूक चटवाया।
दूसरी ओर आरोपित व उसके परिजनों ने जबरन थूक चटवाने के आरोप को गलत बताया है। बताया गया है कि पंचायती के दौरान पूर्व पंसस के पति ने ही अपनी पत्नी से थूक चटवाया। पंचायत में शामिल अन्य लोगों ने भी थूक चटवाने से इनकार कर दिया है। उधर, मुखिया जगदीश साह व सरपंच पुत्र जितेंद्र कुमार सहनी ने पंचायती की जानकारी होने से इनकार किया है। बहरहाल, इस घटना के प्रकाश में आते ही पुलिस के आलाधिकारी हरकत में आ गये और पूरे मामले की जांच में जुट गये हैं।