… और पंचतत्व में विलीन हो गए अटल जी, बेटी ने दी मुखाग्नि

… और पंचतत्व में विलीन हो गए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम संस्कार दिल्ली के स्मृति स्थल पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार हुआ। इस मौके पर उनकी दत्तक पुत्री नमिता भट्टाचार्य ने मुखाग्नि दी। वाजपेयी के अंतिम संस्कार में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम नरेंद्र मोदी, लालकृष्ण आडवाणी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई दिग्गज नेता शामिल हुए।

कौन है नमिता

अटल बिहारी वाजपेयी अपने पीछे गोद ली हुई दत्तक बेटी नमिता व पोती को छोड़ गए हैं। पूर्व प्रधानमंत्री ने शादी नहीं की थी। उन्होंने ग्वालियर के विक्टोरिया कॉलेज, जो अब अब लक्ष्मी बाई कॉलेज के नाम से जानी जाती है। इसी कॉलेज में साथ पढ़ने वाली राजकुमारी कौल की बेटी नमिता को गोद लिया था। नमिता ने रंजन भट्टाचार्य से शादी की। उनकी बेटी का नाम निहारिका है।

परिवार का हिस्सा थी राजकुमारी कोल

वाजपेयी जब प्रधानमंत्री बने तो राजकुमारी कौल अपनी बेटी और दामाद के साथ उनके सरकारी आवास पर आकर रहने लगीं थी। कहतें है कि कोल का वाजपेयी के साथ पारिवारिक रिश्ते ग्वालियर से रहे हैं। राजकुमारी कौल के पति बृज नारायण कौल के निधन के बाद राजकुमारी कौल वाजपेयी के घर का अभिन्न हिस्सा बन गईं थीं। आपको याद ही होगा, राजकुमारी कोल के निधन के बाद अटल बिहारी वाजपेयी के निवास से एक प्रेस रिलीज जारी की गई थी और इस प्रेस रिलीज में उन्हें घर का मेंबर बताया गया था।

 

KKN Live के पेज को फॉलो कर लें और शेयर व लाइक जरुर करें। मुझे आपके सुझाव का इंतजार रहेगा।

%d bloggers like this: