फंदा गले में पहन कर Bhagat Singh ने Magistrate से क्या कहा…देखिए

Bhagat Singh


KKN न्‍यूज ब्यूरो। आपको जान कर हैरानी होगी कि आजादी के सात दशक बाद भी भगत सिंह को शहीद का दर्जा प्राप्त नहीं हुआ है। कहतें हैं कि वह भारत के स्वतंत्रता संग्राम का एक अनमोल हीरा था। आज हम आपको बतायेंगे कि भगत सिंह को तय समय से पहले ही फांसी क्यों दे दिया गया। जिस रात फांसी पर चढ़ाया गया, ठीक उससे पहले जेल में ऐसा क्या हुआ कि ब्रटिश हुकूमत की चूलें हिल गई। गले में फंदा पहने भगत सिंह ने वहां मौजूद मजिस्ट्रेट को ऐसा क्या कह दिया, जो इतिहास बन गया। शहीदे आजम भगत सिंह से जुड़ी, ऐसे और भी कई सवाल है, इस रिपोर्ट में देखिए…