सनकी किम ने सेनाधिकारी को गोलियों से भूनवाया

उत्तर कोरिया। उत्तर कोरिया के सनकी नेता किम जोंग उन की सनक एक बार फिर दुनिया के सामने आई है। किम ने अपने एक शीर्ष सेनाधिकारी पर सरेआम 90 गोलियां चलवाकर उसे मौत के घाट उतार दिया।

लेफ्टिनेंट जनरल ह्योंग जू सोंग पर जवानों को तय सीमा से ज्यादा खाना और ईंधन बांटने के आरोप लगे थे। पिछले दिनों उन्हें अधिकारों का गलत इस्तेमाल करने और देशद्रोह का दोषी ठहराया गया था। इससे पहले भी किम बैठक में झपकी लेने पर अपने रक्षा प्रमुख ह्योंग योंग को मरवा चुका है।
सूत्रों के मुताबिक सैन्य अधिकारी ह्योंग को राजधानी प्योंगयोंग स्थित मिलिट्री एकेडमी में सजा-ए-मौत दी गई। ह्योंग ने 10 अप्रैल को एक सैटेलाइट लॉन्चिंग स्टेशन का निरीक्षण किया था। उसी वक्त कुछ जवानों ने उनसे कहा था कि अब परमाणु हथियार और रॉकेट बनाने के लिए हम और भूखे नहीं रह सकते हैं। तब सेना के इस अधिकारी ने जवानों के परिवारों के लिए ज्यादा चावल और ईंधन बांटने के निर्देश दिए थे। इसके बाद उत्तर कोरियाई नेता को ह्योंग की यह बात नागवार गुजरी जिसके बाद किम के आदेश पर ह्योंग को सजा दी गई है।
तानाशाह ने फूफा को किया था कुत्तों के हवाले
कहतें हैं कि तानाशाह किम जोंग की बर्बरता के अनेक किस्से हैं। किम जोंग ने 2013 में अपने ही फूफा को बेरहमी से मरवा दिया था। उसने अपने फूफा को भूखे शिकारी कुत्तों के सामने फिंकवा दिया था। तब, 120 शिकारी कुत्तों ने किम के फूफा जेंग सेंग थाएक को नोच-नोच कर मार डाला था। स्मरण रहे कि किम जोंग के फूफा ने ही उसे सियासत की बारीकियां सिखाई थीं। किम जोंग को लगने लगा था कि उसका फूफा कभी न कभी उसे पछाड़ कर आगे निकल जाएगा इसलिए उसने फूफा को बर्बरता से मरवा दिया।
बुआ को भी मार चुका है किम
इससे पहले किम ने अपनी बुआ क्योंग को भी बुरी मौत दी थी। बुआ ने अपने पति जेंग सोंग थाएक की मौत पर सवाल खड़ा किया तो तानाशाह को ये बर्दाश्त नहीं हुआ। उसने अपनी बुआ को मारने का फरमान सुना दिया। किम ने अपनी बुआ को जहर देकर मरवाया। बुआ की मौत के बाद किम ने सार्वजनिक तौर पर बताया था कि उनकी मौत हार्ट अटैक से हुई। लेकिन सच्चाई ज्यादा दिन तक नहीं छिपी। मई 2015 में कोरिया से भागे एक पूर्व सैन्य अधिकारी ने किम की बुआ की मौत का सच उजागर कर दिया।

%d bloggers like this: