हेलो…, मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बोल रहा हूं…

सीएम की आबाज सुनतें ही अबाक रह गये हेडमास्टर

आरा। मौका दीपावली का हो और फोन मुख्यमंत्री का आ जाये, तो यह खुशी महज एक परिवार की नही, बल्कि पूरे समाज को गर्वान्वित करने के लिए प्रयाप्त है। जीहां, ऐसा ही कुछ हुआ भोजपुर जिला अन्तर्गत आरा के चंदवा गांव में। रिटायर्ड हेडमास्टर हरिन्द्र सिंह ने मुख्यमंत्री द्वारा शुरू किये अभियान से प्रेरित होकर दहेज लौटाया तो सीएम खासा प्रभावित हुए। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रिटायर्ड हेडमास्टर के इस कदम की न केवल सराहना की, बल्कि बुधवार को उन्होंने खुद फोन कर उनसे बात भी की। भोजपुर के जगदीशपुर प्रखंड के कौरा स्थित आदर्श मिडिल स्कूल के रिटायर्ड स्कूल हेडमास्टर व आरा के एकता नगर निवासी हरिन्द्र सिंह को जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को फोन किया तो कुछ क्षणों के लिए वे अवाक रह गये।
मुख्यमंत्री ने सिंह को छठ पूजा के बाद पटना आकर मिलने का आमंत्रण भी दिया। भोजपुर डीएम संजीव कुमार और मेयर प्रियम ने भी फोन कर रिटायर्ड हेडमास्टर को बधाई दी और उनके कदम को समाज के लिए अनुकरणीय बताया। भोजपुर एसपी अवकाश कुमार ने भी सिंह को फोन कर उनके निर्णय को साहसी कार्य बताया।
स्थानीय राजद नेता मनोज कुमार सिंह ने सिंह को फोन कर उन्हें सम्मानित करने की बात कही। हरिन्द्र सिंह व उनका परिवार हाल में ही चंदवा में आयोजित महायज्ञ के दौरान बीते चार अक्टूबर को मुख्यमंत्री के दहेज के खिलाफ अभियान से प्रभावित होकर अपने बेटे के विवाह के लिए मिली दहेज की राशि को लौटाने का निर्णय लिया था।