बिहार में दिखा भारत बंद का असर, आरा में ट्रेन रोकी, औरंगाबाद में विधायक से झड़प

पेट्रोलियम पदार्थों की बढ़ती कीमतों व महंगाई के खिलाफ कॉग्रेस की अगुवाई में विपक्षी दलों की भारत बंद का बिहार में जबरदस्त असर दिखा। बंद समर्थको ने सोमवार को आरा में ट्रेन रोक दी। वहीं, औरंगाबाद में कांग्रेस विधायक आनंद शंकर सिंह और भाजपा कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए। भारत बंद के कारण सड़को पर यात्री वाहन नहीं चलें और बंद समर्थको ने कई जिलो में बाजार और सरकारी कार्यालय भी नहीं खुलने दिया।

कॉग्रेस और भाजपा कार्यकर्ता आपस में भिड़े

औरंगाबाद में कांग्रेस विधायक आनंद शंकर सिंह और भाजपा कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। इसके बाद पहुंची पुलिस ने किसी तरह बीच बचाव कर मामले को शांत किया। बंद समर्थकों ने दो ठेलों पर लदे सामानों को भी फेंक दिया और जमकर हंगामा किया। कही, दुकानदार तो कही राहगीरो से बंद समर्थको की झड़प के बीच बंद का सर्वाधिक असर सड़को पर देखने को मिला। अधिकांश यात्री वाहन नहीं चलने से राहगीरो को मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

सड़को पर पसरा सन्नाटा

आरा-पटना शटल ट्रेन को आरा स्टेशन पर रोक दिया गया। वहीं तरारी के तरारी, मोपती, बिहटा व फतेहपुर में रोड जाम से आबागलम ठप हो गया। पटना सीतामढ़ी और मुजफ्फरपुर शिवहर सड़क सहित दरभंगा, मधुबनी, शिवहर, चंपारण और बेतिया में भी बंद का असर देखा गया। बंद समर्थक अहले सुबह से ही सड़को पर धरना देकर बैठ गए।

विपक्ष ने दिखाई एकजुटता

पेट्रौल और डीजल की बढ़ती कीमतो से तंग आकर भारत बंद के समर्थन में उतरे कॉग्रेस, राजद, भाकपा माले, तथा अन्य विपक्षी पार्टियों के कार्यकर्ता जहां तहां बंद कराते हुए काफी सक्रिय दिखे। बंद समर्थक आसमान छूती डीजल-पेट्रोल की कीमत, बेरोजगारी तथा अन्य आरजकता को दूर करने की सरकार से मांग कर रहे थे।

खबरो की खबर के लिए पेज को फॉलो कर लें और शेयर जरुर करें। आपके सुझाव का भी इंतजार रहेगा।

%d bloggers like this: