विधवा भाभी से किशोर देवर की कराई जबरन शादी

भाभी की अधिक उम्र से निराश होकर देवर ने कर लिया खुदकुशी

गया। अपने से बड़ी उम्र की भाभी के साथ जबरन विवाह कर देने से निराश हुआ देवर ने खुद को फांसी पर लटका कर अपनी जीवन लीला को ही समाप्त कर दिया। घटना बिहार के गया के विनोबा नगर की है। हुआ यें कि परिवार वालों ने रिश्ते में विधवा भाभी से देवर की जबरन शादी करा दी। बतातें चलें कि देवर का उम्र 15 वर्ष का है। जबकि, उसकी विधवा भाभी की उम्र 25 वर्ष बताई जा रही है। दुल्हा बना देवर, शादी की रस्मों के बाद से ही लापता हो गया था। जब घरवालों ने खोजबीन की तो उसकी लाश फांसी के फंदे पर लटकी मिली। फिलहाल यह घटना इलाके में चर्चा का विषय बन चुका है।
दरअसल महादेव दास नाम का यह युवक परैया के सरकारी स्कूल में नौवीं क्लास में पढ़ता था। कुछ माह पहले उसके बड़े भाई संतोष दास की मौत हो गई। इसके बाद घर वालो ने संतोष की विधवा 25 वर्षीया रूबी देवी से महादेव की विवाह करा दी।

मृतक के पिता चंद्रेशवर दास के मुताबिक, बड़े बेटे संतोष की मौत के बाद उन्हें 80 हजार रूपए मुआवजे के रूप में मिले थे। इन पैसों पर रूबी के घरवालों की नजर लगी हुई थी। वे बार-बार यह दबाव बनाते थे कि या तो पैसे दे दो या छोटे बेटे से रूबी की शादी करवा दो। हमने उन्हें 25 हजार रूपए भी दिए, लेकिन वो शादी के लिए लगातार दबाव बनाते रहे। इसी दबाव के चलते लड़के की शादी 10 साल बड़ी भाभी रूबी से करवा दी गई। हालांकि, महादेव शादी करने से लगातार इनकार कर रहा था। बावजूद इसके परिजनो ने उसकी नही सुनी।
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और आत्महत्या का मामला दर्ज किया। हालांकि, जब पूरे मामले का खुलासा हुआ तो दोबारा पुलिस ने एफआईआर दर्ज की और लड़के के परिवार समेत शादी में शरीक हुए 9 अन्य रिश्तेदारो के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।