मुख्यमंत्री ने लिखा देवी गीत, राज्य मंत्री देंगे आवाज

भारत में चुनाव नजदिक आतें ही वोटरो को लुभाने के लिए राजनेता तरह-तरह के करतब दिखाते है। कोई अचानक किसी दलित के घर पहुंच कर खाट पर सो जाता है। वहीं कोई दलित के साथ साग और रोटी खाकर खुद को उसका बड़ा हितैषी बता जाता है। चुनाव जीतने के लिए भड़़काउ जातीय भाषण ही नहीं, बल्कि, धार्मिक उन्माद का भी सहारा लिया जाता है। कोई टोपी लगा लेता है तो कोई भगवाधारी बन जाता है। इसी कड़ी में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने देवी दुर्गा की थीम पर आधारित गीत लिख कर हिन्दू वोटरो के दिल में पैठ बनाने की जुगत निकाल लिया है।

पारंपरिक बंगाली गीत

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोलकाता के दुर्गा पूजा समिति के आयोजकों के एक कार्यक्रम में स्वयं इसका खुलाशा करते हुए कहा कि उन्होंने देवी को समर्पित एक थीम गीत लिखा है। ममता ने दुर्गा पूजा समितियों के आयोजकों के एक कार्यक्रम में बीते सोमवार को कहा कि इस थीम गीत का उद्देश्य ‘अगोमोनी’ है यानी देवी का आह्वान करने वाला पारंपरिक बंगाली गीत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह चाहती है कि समाज में पारंपरिक गीतों को फिर से वापस लाया जाए। न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार ममता बनर्जी ने यह गीत अपने ही कैबिनेट मंत्री अरूप विश्वास के कहने पर लिखा है।

सांस्कृतिक राज्य मंत्री देंगे आवाज

पश्चिम बंगाल की सांस्कृतिक राज्य मंत्री और लोकप्रिय सिंगर इंद्रनील सेन इस गीत को अपनी आवाज देंगे। कार्यक्रम के दौरान नेताजी इंडोर स्टेडियम में दर्शकों के सामने गीत गुनगुनाते हुये सेन ने कहा, ‘जय मा जय दुर्गा की पंक्तियों में एक अद्भूत भक्ति पक्ष का संचार है और उममीद है कि लोग इसे खूब पसंद करेंगे।

खबरो की खबर के लिए पेज को लाइक व शेयर कर लें और अपना कमेंट लिखना भी नहीं भूलें।

%d bloggers like this: