जीवन के साथ ही नही बल्कि जीवन के बाद भी निभाया साथ

पत्नी के मौत के गम में पति की थमी सांसे/मुखाग्नि देने के शीघ्र बाद पति ने छोड़ दी दुनिया

रांची। जीवन के साथ ही नही, बल्कि जीवन के बाद भी, साथ निभा कर एक पति ने आपनी प्रेम कहानी को अमर कर दिया। रांची में रहने वाले दिनेश वर्मा की पत्नी उर्मिला सिन्हा का शनिवार रात दो बजे निधन हो गया था। उन्हें मुखाग्नि देते हुए पति दिनेश वर्मा को ऐसा सदमा लगा कि उनकी सांसे थम गई और पत्नी की चिता के सामने ही उन्होंने दम तोड़ दिया।
कचोटने वाली बात ये कि उर्मिला सिन्हा अक्सर कहती थी की कि उनके मरने पर पति ही उन्हें मुखाग्नि दें। मृतक उर्मिला की इच्छा पूरी भी हुई और उनके पति ने ही पत्नी का अंतिम संस्कार किया। बीते 58 सालों का साथ छूटता देख पति दिनेश वर्मा मुखाग्नि देते वक्त विचलित हो गये और श्मशान घाट पर ही उन्होंने दम तोड़ दिया।

उर्मिला सिन्हा आर्य कन्या उच्च विद्यालय में प्रधानाध्यापक थीं। जबकि, दिनेश वर्मा पटना मेडिकल कॉलेज हॉस्पीटल में कार्यरत थे। बतातें चलें कि यह परिवार रांची के अनंतपुर स्थित यमुना अपार्टमेंट में रहता है। दिनेश वर्मा और उर्मिला वर्मा ने अपने पीछे पूरा भरापूरा संसार छोड़ अंतिम सांसें ली है। उनके परिवार में एक बेटा, बहु और पोती का रो-रोकर बुरा हाल है।