तलाकशुदा अधेड़ की विस्तर पर बिछने से बची किशोरी

पूजा श्रीवास्तव
गया। सहेलियों की सूझबूझ से एक किशोरी की जिन्दगी तबाह होने से बच गयी। दरअसल, उसके गरीब माता पिता ने किशोरी का विवाह एक तलाकशुदा अधेड़ के साथ करने पर सहमत हो गई थे। किंतु, सहेलियो ने इस विवाह की सूचना पुलिस को दे दी। बतातें चलें कि यह विवाह 18 फरवरी को होना था।

कहतें है कि बिहार में अब बाल विवाह के खिलाफ माहौल बनने लगा है। मामला गया जिले से जुड़ा है। नौवीं क्लास की छात्रा पिंकी ने नाबलिग उम्र में शादी से इंकार करके बाल विवाह के प्रति बन रहे माहौल को प्रमाणित कर दिया है। उसने अपने स्कूल की सहेलियों के जरिए पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद बाराचट्टी थानाध्यक्ष ने तेतरिया स्थित पिंकी के घर पहुंचकर मामले की छानबीन की और माता पिता को समझाबूझा कर इस विवाह को टाल दिया है।
पिंकी की सहेली नेहा कुमारी ने बताया कि हमलोग को पता चला कि पिंकी के पिता उसकी शादी तलाकशुदा लड़के से करवा रहे हैं। पिंकी नौवीं में पढ़ती है और अभी उसकी शादी करने की उम्र भी नहीं है। पिंकी शादी नहीं करना चाहती थी तो स्कूल की लड़कियो ने मिलकर इसकी शिकायत थाने में कर दी। बहरहाल, शादी रुकने के बाद पिंकी और उसके स्कूल की सहेलियां काफी खुश हैं। गौरतलब है कि पिंकी की शादी की सारी तैयारी पूरी कर ली गयी थी और कार्ड भी छप चुका था।

%d bloggers like this: