राष्ट्रपति चुनाव को लेकर महागठबंधन में दरार

जदयू ने कोविंद को समर्थन देने का लिया निर्णय

बिहार। राष्ट्रपति चुनाव को लेकर महागठबंधन में दरार पड़ गयी है। जदयू ने एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन देने की घोषणा करके महागठबंधन को तगड़ा झटका दिया है। शिवसेना के समर्थन के बाद बुधवार को जेडीयू ने भी कोविंद को अपना समर्थन दे दिया है। जेडीयू की घोषणा के बाद बीजेपी की राह और आसान हो गई है। वहीं आरजेडी आगामी राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी उम्मीदवार पर फैसला गुरुवार को लेगा।
इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के घर पर हुई पार्टी बैठक में एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन देने का फैसला लिया गया। आपको बता दें कि राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर विपक्ष की बैठक 22 जून को दिल्ली में होनी है। कयास लगाये जा रहें है कि जदयू अब इस बैठक में हिस्सा नही लेगी।
कोविंद को लेकर जेडीयू में फूट
जेडीयू की की केरल इकाई आगामी राष्ट्रपति चुनाव के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के उम्मीद रामनाथ कोविंद को वोट नहीं देगी। पार्टी की प्रदेश इकाई ने बुधवार को कहा कि वह अलग रास्ता अपनाएगी। जेडीयू के महासचिव वगीर्ज जॉर्ज ने कहा कि किसी भी परिस्थिति में केरल इकाई कोविंद को समर्थन नहीं देगी। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एम.पी.वीरेंद्र कुमार राज्यसभा के सदस्य हैं और इस नाते उनका वोट कोविंद को नहीं जाएगा।