इमरान को पाकिस्तान के भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो ने दिया समन

पाकिस्तान की फिदरत रही है कि वहां प्रधानमंत्री बनने वाले नेता या तो फांसी पर चढ़ा दिए जातें है या फिर भ्रष्टाचार के आरोप में जेल के सलाखो के पीछे कैद कर दिए जातें हैं। यदि इससे किसी प्रकार बच गए तो पाक परस्त आतंकी के गोलियों की भेंट चढ़ना तय है। किंतु, यहां तो उल्टा होता हुआ दिख रहा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने को तैयार कर रहें इमरान खान पर अभी से ही भ्रष्टाचार के आरोप लगने शुरू हो गयें हैं। पाकिस्तान के भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो ने इमरान के नाम समन जारी करके उन्हें 7 अगस्त को पेश होने के लिए कहा है।

ऐसे फंसे इमरान
दरअसल, खैबर पख्तूनख्वा की सत्ता पर इमरान की पार्टी वर्ष 2013 से काबिज है। आरोप है कि उन्होंने चुनाव प्रचार के लिए एक सरकारी हेलीकॉप्टर का 72 घंटे से अधिक समय तक उपयोग किया। इससे प्रांतीय सरकार के खजाने को 21.7 लाख रुपये के नुकसान होने के संबंध में अब जांच शुरू हो चुकी है। यदि आरोप साबित हो गये तो इमरान की मुश्किलें बढ़ सकती है।
इमरान ने बताया राजनीतिक आरोप
एनएबी के एक अधिकारी ने बताया कि इमरान को 7 अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। उनका बयान दर्ज किया जाएगा। इस बीच, इमरान ने कुछ भी गलत करने से इनकार करते हुए कहा कि यह मामला राजनीति से प्रेरित है। इमरान को इससे पहले 18 जुलाई को समन भेजा गया था। लेकिन वह चुनाव के कारण ब्यूरो के समक्ष पेश नहीं हुए। उनके वकील ने एनएबी से चुनाव के बाद तारीख तय करने का अनुरोध किया था।

KKN Live के पेज को सबसे पहले फॉलो कर लें और यदि आप सीधे KKN Live से जुड़ना चाहतें हैं तो एप डाउनलोड कर लें।

%d bloggers like this: