आम लोगो से जुड़ने का जदयू का संकल्प

जिला सम्मेलन में हुआ कई अहम निर्णय

मुजफ्फरपुर। मुजफ्फरपुर के मिठनपुरा स्थित नगर निगम के ऑडिटोरियम में आयोजित जदयू के जिला सम्मेलन में पार्टी के वरीय नेताओं ने कार्यकर्ताओं का हौसला बुलंद किया। दल को और सुदृढ़ करने पर भी नेताओं ने जोर दिया। पार्टी का विस्तार गांव के टोले-टोले तक करने के संकल्पों को भी दोहराया गया।
सांसद कौशलेंद्र कुमार ने कहा कि महिलाओं के चेहरे पर मुस्कान लाने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के संदेशों को लेकर हम आपके बीच आए हैं। हम उनके अभियान को गति देने के लिए सभी जिलों में पार्टी सम्मेलन के माध्यम से जा रहे हैं। शराबबंदी, बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ सरकार ने जो फैसला लिया है और जो कानून बना है, उसकी जानकारी जन-जन तक पहुंचानी है। इस संकल्प को पूरा करने दायित्व हम सभी साथियों पर है।

जिला सम्मेलन के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामाजिक संकल्पों, सरकार के कामकाज और लोक कल्याणकारी योजनाओं को समाज के अंतिम आदमी तक पहुंचाने का संकल्प जदयू के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने शनिवार को लिया।
सम्मेलन में मौजूद राज्यसभा सदस्य कहकशां परवीन ने कहा कि समाज में बाल विवाह एवं दहेज प्रथा जैसी कुरीतियों पर रोक लगाने का मुख्यमंत्री ने फैसला लेकर महिलाओं का मान-सम्मान बढ़ाया है। शराबबंदी के कारण घर-घर में अमन चैन की वापसी हुई है। अपराध और सड़क दुर्घटनाओं में भी कमी आयी है। उन्होंने कहा कि भागलपुर दंगा पीड़ितों को न्याय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ही दिलाया। अकलियतों का हिमायती होने का दावा कोई और करता है। अकलियत समाज के लिए राज्य सरकार की ओर से उठाये गये कदमों की चर्चा भी उन्होंने की।