मनियारी में हुआ जेपी सेनानियों का समागम

संजय कुमार सिंह
मुजफ्फरपुर। मनियारी थाना क्षेत्र के आगानगर गांव में रविवार को जेपी सेनानियों का समागम हुआ। जिसमें 1974 के आंदोलन में साथ रहे व जेल गय सैंकड़ों साथियों का एक साथ मिलना एक अदभुत उत्साह में लवरेज हो गया। इस मौके पर लोगों ने एक दूसरे को गले लगाया और अपने समय को याद करते हुए वर्तमान समय के व्यवस्था व नीतियों को जम कर कोशा।

समागम समारोह की अध्यक्षता वयोवृद्ध समाजसेवी लक्षणदेव प्रसाद सिंह ने किया और संचालन जेपी सेनानी लोकतंत्र संगठन के महासचिव रमाशंकर पाण्डेय ने किया। समागम के माध्यम से एक बार पुनः जेपी के विचारधारा को धरताल पर उतारने के लिए सभी उपस्थित सेनानियों ने सर्वसम्मति से 1974 के जेपी आंदोलन में जेल जा चुके व भारत सरकार के पूर्व प्रमुख आयकर आयुक्त अजय कुमार को संयोजक मनोनित किया गया।
अजय कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि आज रेलगाड़ियों का नाम सप्तक्रांति व संपूर्ण क्रांति रखा जा रहा है। जबकि, समाज में विचार क्रांति, विलुप्त हो रही है। हमें आज युवा पीढ़ी को जागरूक कर उनको अपने साथ जोड़ कर समाज में नई क्रांति लानी होगी।
अपने अध्यक्षीय संबोधन में लक्षणदेव प्रसाद सिंह ने कहा हम जेपी के रास्ते पर चलें, पर किसी पार्टी या पद का परित्याग कर करें तभी सही सेवा होगी। समागम में बिगड़ती शिक्षा व्यवस्था व भ्रष्टाचार पर भरपूर प्रहार किया गया।
इस ऐतिहासिक समागम सभा को पूर्व मंत्री गणेश यादव, एम एल सी गणेश भारती, सिंडिकेट के मेंबर हरेन्द्र कुमार, राजद के प्रदेश प्रवक्ता इकबाल शमी, पूर्व उपमेयर विवेक कुमार, प्रभाष सिंह, सुबोध कुमार, स्थानीय मुखिया चंदेश्वर राय, मुखिया रामसेवक ठाकुर, विजया सिंह, अवध किशोर चौधरी, प्रकाश चंद्र गुप्ता, डॉ. अरुण पटेल, शिवाजी शाही, दिलीप कुमार, राकेश कुमार, रामबाबू राय, विजय सिंह, रामबाबू पटेल, उपेन्द्र निषाद, देवशंकर, विश्वनाथ सिंह, नूनू सिंह, मो. एकराम, निशांत शेखर, मो. रेयाज अहमद, शशिभूषण, प्रशांत कुमार व स्थानीय डाकबाबू मुकेश कुमार मौजूद थे।

%d bloggers like this: