बिहार उपचुनाव में नही चला नीतीश का विकास मॉडल

तेजश्वी के नेतृत्व में जनता ने लगायी मुहर

बिहार। बिहार में लोकसभा की एक और विधानसभा की दो सीटो के लिए उपचुनाव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के विकास मॉडल की हवा निकल गयी। मतदाताओं ने विपक्ष के नेता और राजद का हाल ही में कमान थाने तेजश्वी यादव के कुशल नेतृत्व पर अपनी मुहर लगा दी है।
बतातें चलें कि अररिया लोकसभा सीट और जहानाबाद एवं भभुआ विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनाव का परिणाम आ चुका है।

विधानसभा की दोनों सीटों भभुआ और जहानाबाद के नतीजे आ चुके हैं। जहानाबाद विस उपचुनाव में राजद प्रत्याशी सुदय यादव ने करीब 35 हजार वोटों से जीत दर्ज की है, तो बीजेपी ने भभुआ सीट पर जीत हासिल की है। यहां से भाजपा प्रत्याशी रिंकी पांडे ने जीत दर्ज की है।
वहीं, अररिया लोकसभा सीट पर भी राजद के सरफराज आलम ने भाजपा प्रत्याशी प्रदीप कुमार सिंह को 61,788 वोटों से पराजित कर दिया है। इन सीटों पर उपचुनाव के लिए 11 मार्च को मतदान हुआ था। अररिया से राजद के सांसद रहे मोहम्मद तस्लीमुद्दीन, जहानाबाद से राजद के विधायक रहे मुंद्रिका सिंह यादव तथा भभुआ से भाजपा के विधायक रहे आनंद भूषण पांडेय के निधन के कारण चुनाव आयोग द्वारा गत नौ फरवरी को इस सीटों पर उपचुनाव की अधिसूचना जारी की थी।

%d bloggers like this: