पीएम मोदी ने इमरान ख़ान से बात कर दी बधाई

विदेश मंत्रालय ने की बातचीत की पुष्टि

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान के तहरीक-ए-इंसाफ़ यानी पीटीआई के चेयरमैन इमरान ख़ान से टेलीफ़ोन पर बातचीत की है और पाक के आम चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरने के बाद उन्हें बधाई भी दी है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने मीडिया को जारी एक रिलीज़ में इसकी पुष्टी कर दी है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने जारी रिलीज के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा पाकिस्तान चुनावों में इमरान की पार्टी पीटीआई के सबसे बड़ा दल बनने पर बधाई देने की बात कही है।
लोकतंत्र की जड़ मजबूत होने की जताई उम्मीद
प्रधानमंत्री ने उम्मीद जताई है कि इमरान खान के कुशल नेतृत्व में पाकिस्तान में लोकतंत्र की जड़ें और गहरी होंगी। प्रधानमंत्री मोदी ने शांति और पड़ोसी देशों के साथ विकास के अपने पुराने दृष्टिकोण को भी बातचीत में दोहराया है। राजनीतिक हलके में पीएम मोदी और पाक नेता इमरान खान के बीच हुई बातचीत के कूटनीतिक अर्थ तलाशे जा रहें हैं। समझा जाता है कि पाक में वजीरे-ए-आजम की ताजपोशी से पहले इमरान ने भारत को लेकर जो बयान दिया था। अब भारत के पीएम ने उसका कूटनीतिक जवाब दिया है।
स्वतंत्रता दिवस से पहले हो सकता है शपत-ग्रहण
इमरान ख़ान की पार्टी पीटीआई का कहना है कि उनके चेयरमैन इमरान ख़ान पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस समारोह यानी 14 अगस्त से पहले पाक प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। बतातें चलें कि पाकिस्तान में 25 जुलाई को हुए मतदान के बाद आए परिणामों में नेशलन असेंबली में पीटीआई सबसे बड़े दल के रूप में उभरी है। जबकि, पाकिस्तान मुस्लिम लीग, नवाज़ दूसरे और पाकिस्तान पीपल्स पार्टी, पीपीपी तीसरे स्थान पर है। हालांकि, पीएमल नवाज़ और पीपीपी के अलावा कई पार्टियां चुनावों में धांधली के आरोप लगा चुकी हैं और वह फिर से चुनाव कराने की मांग कर रही हैं।
ताजपोशी से पहले इमरान ने कहा
सबसे बड़े दल के रूप में उभरने के बाद इमरान ख़ान ने 26 जुलाई को दिए अपने भाषण में कहा था कि वह विभिन्न पार्टियां के साथ मिल कर चुनाव में हुए धांधली सहित तमाम समस्याओं की मिल कर जांच के लिए तैयार हैं। इमरान ने अपने भाषण के अंत में भारत पर भी टिप्पणी की थी। इमरान ने कहा था कि वह बातचीत के पक्षधर हैं और दोनों देशों यानी भारत और पाकिस्तान को मिल कर अधिक से अधिक साझा व्यापार करना चाहिए। इमरान ने यह भी कहा था कि यदि बातचीत के लिए भारत एक क़दम आगे आता है तो वह दो क़दम चलकर दिखाएंगे।

KKN Live के इस पेज को फॉलो कर लें और सीधे हमारे न्यूज वेबसाइट पर आने के लिए KKN Live का एप डाउनलोड कर लें।

%d bloggers like this: