मीनापुर में राजद को लगा बड़ा झटका

राजद के कई कद्दावर नेता जदयू में शामिल हुए

मुजफ्फरपुर। मीनापुर में दिवाली से ठीक एक रोज पहले राजद को बड़ा झटका लगा है। राजद के एक दर्जन से अधिक नेता बुधवार को राजद छोड़ कर जदयू में शामिल हो गये। हांलाकि, राजद विधायक मुन्ना यादव ने इसे राजनीति की मामुली प्रक्रिया बतातें हुए कहा कि इससे राजद के सेहत पर कोई असर नही पड़ेगा। विधायक ने कहा मुश्किल के इस वक्त में मिथलेश यादव को राजद छोड़ना नही चाहिए था।
बतातें चलें कि जदयू के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह की मौजूदगी में पटना में आयोजित मिलन समारोह के दौरान राजद नेता पूर्व जिला पार्षद मिथलेश यादव के नेतृत्व में जदयू की सदस्यता ग्रहण करने वालों में जिला पार्षद वीणा देवी, प्रमुख राधिका देवी, पूर्व मुखिया मो. सदरुल खान, पंसस गुड्डू कुमार, पंसस पति नंद राय, पंचायत अध्यक्ष नवल राय आदि जदयू में शामिल हो कर राजद को बड़ा झटका दे दिया हैं।
मजबूत होगा जदयू: हरिओम
जदयू के जिला अध्यक्ष हरिओम कुशवाहा ने राजद छोड़ कर जदयू में शामिल होने वाले नेताओं का स्वागत करते हुए कहा कि इससे मीनापुर में पार्टी का जनाधार बढ़ेगा। प्रखंड अध्यक्ष पंकज किशोर पप्पू सहित कई अन्य नेताओं ने भी जदयू में शामिल होने वाले नेताओं का पुरजोर स्वागत करते हुए इसे मुख्यमंत्री के समावेशी विकास नीति का सुखद परिणाम बताया है। नेताओं ने दावा किया है कि आज के मिलन समारोह के बाद जदयू का जनाधार मीनापुर में और बढ़ेगा।
लालू पर लगाया परिवारवाद का आरोप
जदयू की सदस्यता ग्रहण करने के बाद पूर्व जिला पार्षद मिथलेश यादव ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद पर परिवारवाद करने का आरोप लगाते हुए कहा कि भ्रष्टाचार के आरोप में आकंट डूब चुके लालू परिवार के नेतृत्व में राजद का अब कोई भविष्य नही रहा। लिहाजा उन्होंने अपने सैकड़ो समर्थको के साथ राजद छोड़ कर जदयू की सदस्यता ग्रहण की है और पूरे दमखम के साथ मीनापुर में जदयू को मजबूत करेंगे।