पुलिस वाले का बेटा था आतंकी

फिदायीन बनाने के लिए हुआ था ब्रेन वॉश

जम्मू कश्मीर। पुलवामा में सीआरपीएफ कैंप पर हुए आतंकी हमले में मारा गया तीन में से आतंकी पुलिस कॉन्स्टेबल का बेटा था। बतातें चलें कि इस हमले में पांच सैनिक शहीद हो गए। जवाबी कार्रवाई में तीन आतंकवादी भी मारे गए। यह हैरान कर देने वाली बात इसलिए है, क्योंकि तकरीबन एक दशक बाद कोई कश्मीरी फिदायीन बना है।

इससे पहले जम्मू-कश्मीर में करीब15 वर्षो से विदेशी आतंकी ही फिदायीन हमले में शामिल होते रहे हैं। शनिवार को मारे गए तीनों आतंकियों में फिदायीन हमलावर की पहचान 17 साल के फरदीन अहमद खानडे के रूप में हुई है। फरदीन अहमद के पिता गुलाम मोहम्मद खानडे जम्मू-कश्मीर पुलिस में कॉन्स्टेबल के पद पर तैनात हैं।