आभूषण कारोबारी का शव पहुंचते भड़के लोग, किया तोड़फोड़ व आगजनी


आक्रोशित लोगो ने स्टेट हाइवे को चार घंटे तक किया जाम

मीनापुर। आभूषण कारोबारी संजय कुमार का शव पहुंचते ही बुधवार को मुस्तफागंज के लोगो का आक्रोश फूट पड़ा। आक्रोशित लोगो ने आरोपित मुस्तफागंज के उमेश प्रसाद के जेरलस्टोर की दुकान में पहले तोड़फोड़ की और बाद में उसके दुकान में आग लगा दिया। इसके बाद लोगो ने मुजफ्फरपुर शिवहर स्टेट हाइवे को मुस्तफागंज के समीप जाम कर दिया और सड़क पर ही टायर जला कर बिरोध प्रदर्शन करने लगे। संजय की मौत से मर्माहत मुस्तफागंज के सभी दुकानदारो ने अपनी अपनी दुकाने बंद कर ली है। गुस्साए लोग घटनास्थल पर उच्चाधिकारी को बुलाने की मांग कर रहे थे।

बाद में कल्याण पदाधिकारी पंकज कुमार के साथ हुई वार्ता के बाद करीब चार घंटे तक चला जाम शाम पौने सात बजे में समाप्त हो गया है। गंज बाजार के कारोबारियों ने बाजार पर धड़ल्ले से बिकने वाली शराब, गांजा, व चरस आदि की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। कल्याण पदाधिकारी ने व्यवसायियों की मांग को उच्चाधिकारी तक पहुंचाने का लोगो को आश्वासन दिया। इस मौके पर जदयू किसान प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष मनोज कुमार, मुखिया संघ की प्रखंड अध्यक्ष नीलम कुमारी, वैश्य संघ के प्रखंड अध्यक्ष अर्जुन गुप्ता, जदयू नेता शंकुन्तला गुप्ता आदि मौजूद थे।
ये है पूरा मामला
स्मरण रहें कि 20 फरबरी की रात घर में सो रहे आभूषण कारोबारी संजय को अपराधियों ने गोली मार दी थी। गोली सिर में लगी थी और पटना के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान ही मंगलवार की देर रात को संजय की मौत हो गई। बुधवार को संजय का शव मुस्तफागंज पहुंचते ही लोग भड़क गये। बतातें चलें कि इस मामले में संजय की पत्नी रितु राज के बयान पर पुलिस ने तीन लोगो पर एफआईआर दर्ज करके घटना के तीन घंटे के भीतर ही तीनो को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया हुआ है।
गिरफ्तार होने वालो में मीनापुर थाना के गंज बाजार का दिलीप कुमार चौधरी, राजीव कुमार व मुस्तफागंज का उमेश प्रसाद शामिल है। इनके पास से पुलिस ने एक पिस्टल, एक कट्टा, चार कारतूस, एक कार व तीन मोबाइल भी बरामद किया हुआ हैं। संजय की मौत के बाद से इलाके में जबरदस्त आक्रोश है। पुलिस मौके पर कैंप कर रही है।
छात्र राजद ने जताया दुख
मुस्तफागंज के आभूषण कारोबारी के मौत पर छात्र राजद ने गहरा दुख प्रकट किया है। छात्र राजद के जिला अध्यक्ष अमरेन्दर कुमार ने शोकसभा करके मीनापुर में बढ़ते अपराध पर गहरी चिंता प्रकट की है। शोकसभा में अमन पटेल, रतन कुमार, अमरजीत कुमार, सुभाष शर्मा, गुड्डू कुमार, पीयूस वर्मा, अमरेन्दर राज व चन्दन मालाकार आदि मौजूद थे।